[wpdreams_ajaxsearchlite]
  • Home ›  
  • सिद्धपीठ शाकम्भरी देवी मेला | SiddhPeeth Shakambhri Devi Mela

सिद्धपीठ शाकम्भरी देवी मेला | SiddhPeeth Shakambhri Devi Mela

सिद्धपीठ शाकम्भरी देवी मेला
March 27, 2023

सिद्धपीठ शाकम्भरी देवी मेलाSiddhPeeth Shakambhri Devi Mela

 

आइये दोस्तों आज हम जानेंगे सिद्धपीठ शाखाम्भरी देवी मेले के बारे में। और यहाँ की श्रद्धा एवं भक्ति के बारे में। 

सिद्धपीठ शाकम्भरी देवी मेला – सिद्धपीठ शाकंभरी देवी का मेला शारदीय नवरात्र में लगता है। इस मेले का शुभारंभ प्रदेश सरकार के औद्योगिक विकास और संसदीय कार्य राज्य मंत्री श्री जसवंत जी सैनी ने पुरे विधि विधान से पूजा-अर्चना करने के बाद नारियल को फोड़कर और फीते को काट कर किया है। इसके पश्च्यात उन्होंने माँ भगवती के चरण कमल में अपनी हाजिरी लगाई। 

सिद्धपीठ शाकम्भरी देवी मेला – श्री जसवंत सैनी ने बताया कि प्रदेश सरकार धार्मिक स्थलों बहुत विकास कर रही है। और सुरक्षा के सम्बन्धी भी कड़े कदम उठा रही है। इन सभी मुद्दों को लेकर सरकार अपनी कार्य योजना भी तैयार कर रही है। जिला पंचायत के अध्यक्ष श्री मांगेराम चौधरी ने बताया कि शाकंभरी देवी धार्मिक और ऐतिहासिक पवित्र स्थल है। जिसकी पहचान पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पुरे देशभर में है। और यह करोड़ों लोगों की आस्था का केंद्र है। इस मेले में श्रद्धालुओं की सुख एवं सुविधाओं को लेकर जिला पंचायत के द्वारा की गई सभी व्यवस्थाओं में कोई भी कसर बाकी नहीं रहेगी। भाजपा के प्रदेश मंत्री श्री चंद्रमोहन, मेयर श्री संजीव वालिया, पूर्व विधायक श्री नरेश सैनी और महावीर राणा, बिजेंद्र चौधरी, ब्लॉक प्रमुख विश्वास चौधरी, नीरज चौहान,पंडित अमन कौशिक, जिला पंचायत के मुख्य अधिकारी श्री बाबूराम,रविंद्र चौधरी,हंसराज गौतम, मुकेश चौहान, जगमाल सिंह आदि गणमान्य लोग भी मौजूद रहे।

 

भीड़ नहीं उमड़ी पहले नवरात्री को 

 

सिद्धपीठ शाकम्भरी देवी मेला – शारदीय नवरात्र के पहले दिन श्रद्धालुओं ने माँ भगवती के पावन दर्शन कर के प्रसाद भी चढ़ाया एवं अपने परिवार में खुशहाली और सुख शांति के लिए माँ से मन्नतें की । हालांकि इस बार तो पिछले वर्षों की तरह प्रथम नवरात्र के दिन भीड़ उमड़ी नहीं । दूर-दूर से आए हुए श्रद्धालुओं ने बाबा भूरा देव के पावन दर्शनों के बाद वहां से पैदल चल कर ही सिद्धपीठ पहुंच कर माता रानी के दरबार में अपनी हाजिरी लगाई। शिवालिक की पहाड़ियां पुरे दिन भर माता के गगनभेदी जयकारों से लगातार गूंजती ही रही।

 

सुरक्षा के कड़े कद– Suraksha Ke Kade Kadam

 

सिद्धपीठ शाकम्भरी देवी मेला 

 

सिद्धपीठ शाकम्भरी देवी मेला – शारदीय नवरात्रो के दिनों में इस मंदिर में लाखो की संख्या में भक्त यहाँ दर्शन करने के लिए आते है। तो इस बढ़ती हुई भीड़ को मध्यनज़र रखते हुए यहाँ के प्रशासन ने भक्तो की सुरक्षा के लिए सभी प्रकार के इंतजाम किये हुए है। जैसे की पुलिस की टोली वहा पर रहती है सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जाते है। जिससे की कोई भी अनहोनी घटने घाटे तो उस सीसीटीवी कैमरे में कैद हप जाये। अधिकतर अपराधी किस्म के लोग कैमरे के भय से ही कोई भी उत्पात नहीं मचाते है। और शुरक्षा के लिए सभी भक्तो की चेकिंग भी जाती है। ताकि कोई भी भक्त किसी भी प्रकार की घटना को अंजाम न दे सके। और भक्तो के स्वस्थ्य के लिए चिकित्सको की टीम भी वह पर मौजूद रहती है। यदि किसी की भी तबियत ख़राब हो तो उसे तुरंत इलाज मिल सके और कोई भी अनहोनी ना हो।  यहाँ पर माता रानी के दर्शन के लिए लाखो की संख्या में लोग आते है। नवरात्रो के दिनों में यहाँ पर बहुत ही भीड़ रहती है। तो सुरक्षा के इंतजम भी उसी प्रकार से किये जाते है।  

 

अन्य जानकारी :- 

 

Latet Updates

x