Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
  • Home ›  
  • चमत्कारी चामुंडा माता की आरती | Chamunda Mata Ki Aarti

चमत्कारी चामुंडा माता की आरती | Chamunda Mata Ki Aarti

चामुंडा माता की आरती
June 12, 2021

चामुंडा माता की आरती

माँ चामुंडा की महिमा कौन नहीं जानता हिन्दू धर्म में इस माता को साक्षात् देवी के रूप में पूजा जाता है। माता का भव्य मंदिर जोधपुर में स्तापित है जो जोधा द्वारा निर्माण किया गया। यह मंदिर जोधपुर के मेहरानगढ़ किले के दक्षिण भाग पर बनाया गया है। कहा जाता है की शाही परिवार के लिए आस्था के रूम में यह बहुत मनपसंद स्थान हुवा करता था। मान्यता के अनुसार ये मंदिर हजारो साल पुराना है , पाकिस्तान की और से की गयी हवाई हमले में सब कुछ तहस नहस कर दिया था परन्तु चामुंडा माता का मंदिर सुरक्षित था। आइये पढ़ते है माँ चामुंडा की आरती की विश्लेषण।

Chamunda Mata ki Aarti | चामुण्डा माँ की आरती

जय अम्बे गौरी मैया जय मंगल मूर्ति ।
तुमको निशिदिन ध्यावत हरि ब्रह्मा शिव री ॥टेक॥

मांग सिंदूर बिराजत टीको मृगमद को ।
उज्ज्वल से दोउ नैना चंद्रबदन नीको ॥जय॥

कनक समान कलेवर रक्ताम्बर राजै।
रक्तपुष्प गल माला कंठन पर साजै ॥जय॥

केहरि वाहन राजत खड्ग खप्परधारी ।
सुर-नर मुनिजन सेवत तिनके दुःखहारी ॥जय॥

कानन कुण्डल शोभित नासाग्रे मोती ।
कोटिक चंद्र दिवाकर राजत समज्योति ॥जय॥

शुम्भ निशुम्भ बिडारे महिषासुर घाती ।
धूम्र विलोचन नैना निशिदिन मदमाती ॥जय॥

चौंसठ योगिनि मंगल गावैं नृत्य करत भैरू।
बाजत ताल मृदंगा अरू बाजत डमरू ॥जय॥

भुजा चार अति शोभित खड्ग खप्परधारी।
मनवांछित फल पावत सेवत नर नारी ॥जय॥

कंचन थाल विराजत अगर कपूर बाती ।
श्री मालकेतु में राजत कोटि रतन ज्योति ॥जय॥

श्री अम्बेजी की आरती जो कोई नर गावै ।
कहत शिवानंद स्वामी सुख-सम्पत्ति पावै ॥जय॥

Chamunda Maa Ni Aarti Lyrics

Jay Ambe Gauree Maiyaa Jay Mangal Moorti .
Tumako Nishidin Dhyaavat Hari Brahmaa Shiv Ree ॥ṭek॥

Maang Sindoor Biraajat Ṭeeko Mrigamad Ko .
Ujjval Se Dou Nainaa Chndrabadan Neeko ॥jay॥

Kanak Samaan Kalevar Raktaambar Raajai.
Raktapuṣp Gal Maalaa Knṭhan Par Saajai ॥jay॥

Kehari Vaahan Raajat Khaḍag Khapparadhaaree .
Sur-nar Munijan Sevat Tinake Duahkhahaaree ॥jay॥

Kaanan Kuṇaḍaal Shobhit Naasaagre Motee .
Koṭik Chndr Divaakar Raajat Samajyoti ॥jay॥

Shumbh Nishumbh Biḍaare Mahiṣaasur Ghaatee .
Dhoomr Vilochan Nainaa Nishidin Madamaatee ॥jay॥

Chaunsaṭh Yogini Mngal Gaavain Nrity Karat Bhairoo.
Baajat Taal Mridngaa Aroo Baajat Ḍaamaroo ॥jay॥

Bhujaa Chaar Ati Shobhit Khaḍag Khapparadhaaree.
Manavaanchhit Fal Paavat Sevat Nar Naaree ॥jay॥

Kanchan Thaal Viraajat Agar Kapoor Baatee .
Shree Maalaketu Men Raajat Koṭi Ratan Jyoti ॥jay॥

Shree Ambejee Kee Aaratee Jo Koii Nar Gaavai .
Kahat Shivaannd Svaamee Sukh-sampatti Paavai ॥jay॥

अन्य जानकारी 

Latet Updates

x